हादसों के बीच भरोसे की गवाही: दरवेश की कविताएँ

हादसों के बीच भरोसे की गवाही: दरवेश की कविताएँ

0 comments

हादसों के बीच भरोसे की गवाही: दरवेश की कविताएँ आशुतोष कुमार ‘सन् १९९२’ अदनान कफील दरवेश की २०१७ में लिखी कविता है. १९९२ बाबरी मस्जिद की शहादत का साल है. अयोध्या में हुए इस विध्वंस के इर्द-गिर्द हिन्दी में बहुत–सी कविताएं लिखी गईं है. इनमें से कुछ बहुत प्रसिद्ध भी है. जैसे ‘सामान की तलाश’ […]